Secure Life का सच – बिज़नेस या घोटाला | Safe Shop की सच्चाई

Secure Life उन MLM कंपनी में से है, जिनका नाम भारत में बहुत ख़राब हुआ है. आप और मै कोई भी Secure Life को फ्रॉड और घोटाला नहीं बोल सकते है, क्युकी इस कंपनी के पास सभी जरुरी कागजात है. जो एक आम कंपनी के पास होने चाहिए.

सिक्योर लाइफ, जिसे हम Safe Shop के नाम से भी जानते है, उन कंपनियों में से है. जिनपर बहुत से इनजाम लगे है, फिर भी कंपनी 2 दशकों से चल रही है.

Secure life in hindi

फिर क्यों कई लोग इसे फ्रॉड और scam कहते है और सेफ शॉप की सच्चाई क्या है?

कंपनी तबतक फ्रॉड नहीं है, जबतक भारी सरकारी कार्यवाही कंपनी के खिलाफ ना हो. लेकिन हर फ्रॉड कंपनी भी एक समय सीना फुलाकर चलती है, पर जब सच्चाई सामने आती है, तो लाखो लोगो का करोड़ो में पैसा बर्बाद हो जाता है.

आज की इस पोस्ट में हम सेफशॉप का विश्लेषण करेंगे और देखंगे की क्या सिक्योर लाइफ बिजनेस है या घोटला. क्युकी कंपनी के सर्टिफिकेट ये नहीं बताता है, कि कंपनी से जुड़कर आपको फायदा होगा ही. इसलिए ये उपभोक्ता की जिम्मेदारी है, कि रिसर्च कर किसी MLM कंपनी से जुड़े.

Disclaimer : This post is only a review. We are not claiming anything wrong for anyone.

Secure Life / Safe Shop

Full nameSAFE AND SECURE ONLINE MARKETING PRIVATE LIMITED
CINU52390DL2001PTC109313
Registration Number109313
Company CategoryNon-Government Company Limited by Shares
DirectorSidharth Sehgal, Rajat Verma, Raju Anand, Rajpal Arora
Managing DirectorHarish Sondhi
Year Started2001
Head OfficeJanak Puri, New Delhi
Websitewww.safeshopindia.com
Email[email protected]

सिक्योर लाइफ की शुरुवात

सिक्योर लाइफ की शुरुवात 2001 के प्रारम्भ में हुई थी. जब कंपनी किसी ओर नाम से चलती थी. इनके मैनेजिंग डायरेक्टर हरीश सोंधी बने और अन्य डायरेक्टर में सिद्धार्थ सहगल और रजत वर्मा थे.

सिक्योर लाइफ का ऑफिस जनकपुरी, दिल्ली में स्थित है. कंपनी की शुरवात ठीक रही, लेकिन शुरू से लेकर आज भी सिक्योर लाइफ के खिलाफ बहुत से मामले दर्ज हुए है.

इसलिए सिक्योर लाइफ के अभी तक के सफ़र में बहुत हेर-फेर हुए है. हाँ, सिक्योर लाइफ MLM गाइडलाइन का पालन करती है.

सिक्योर लाइफ बिसनेस प्लान

सिक्योर लाइफ बिजनेस प्लान, जिसे अधिकतर सेफशॉप नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस प्लान से जाना जाता है.

अधिकतर MLM कंपनी में काम को दो भाग में बाँट सकते है, जिसमें प्रोडक्ट बिक्री और नेटवर्क बनना होता है. लेकिन सेफशॉप में नेटवर्क बनाने में ज्यादा ध्यान दिया जाता है.

सेफशॉप में जब कोई व्यक्ति जुड़ता है, तभी उसे एक बार पैकेज खरीदना होता है. उसके बाद उसे नये लोगो को अपने निचे downline में जोड़ना होता है.

अब जितना जल्दी लोगो को निचे जोड़ेंगे, नेटवर्क उतना जल्दी बढेगा और इनकम उतनी ज्यादा होगी. लेकिन यह जितना आसान सुनने में लगता है, उतना है नहीं.

क्योंकी MLM में मात्र 00.03 प्रतिशत लोग ही सफल होते है और यह अनुपात एक IPS-IAS ऑफिसर बनने समान है.

सिक्योर लाइफ प्रोडक्ट

शायद आपको पता होगा, हर MLM कंपनी में उसके बिजनेस प्लान से ज्यादा महत्पूर्ण प्रोडक्ट होते है.

उदहारण, जैसे एक कंपनी के पैकेज की कीमत 10000 रुपए है. लेकिन उस 10000 रुपए के बदले आपको वाकई में इसी कीमत का प्रोडक्ट मिल रहा हो. तो अगर आप नेटवर्क बनाकर इनकम नहीं कर पाते है. फिर भी आपको दुःख नहीं होगा.

इसलिए अगर आप एक प्रोडक्ट आधारित MLM कंपनी से जुड़ते है, तो आपके पैसे का कोई नुकसान नहीं होगा. इनकम हो या नहीं.

सिक्योर लाइफ में भी फिक्स कीमत के पैकेज तय किये है, जिनकी कीमत व्यक्तिगत रूप से मुझे ज्यादा लगती है.

Safeshop में आपको 10000 रुपए में 3 सूट-लेंथ मिलते है. अगर आप raymond के प्रीमियम सूट-लेंथ भी ले, तो 3 की कीमत 5000 रुपए तक ही होगी. दूसरी बात जब आप कभी मार्किट में कपडे लेने जाते हो, तब आप खुद कपडे की क्वालिटी और कलर पसंद करते है.

आपको यहाँ दौगुना पैसे भी देने है और प्रोडक्ट भी बिना देखे-परखे लेना पड़ेगा. कई लोग कहते है, कि MLM बदनाम है. तो यह भी एक बड़ा कारण है.

प्रोडक्ट के मामले में सिक्योर लाइफ का दबदबा नहीं है. इसके सारे पैकेज ओवर-प्राइज है. secure life प्रोडक्ट पर हमने पहले एक पोस्ट लिखी है, उसे आप पढ़ सकते है.

सिक्योर लाइफ इनकम प्लान

सेफ शॉप बाईनरी प्लान पर आधारित है. इसलिए इनकम प्लान समझने में काफी सरल है.

सिक्योर लाइफ से व्यक्ति जब जुड़ता है, तो उसको सबसे पहले अपने निचे दो लोगो को पेअर बनाना होता है. जब कोई अपने निचे एक व्यक्ति को जोड़ता है, तो उसे 200 रुपए मिलते है और दुसरे व्यक्ति को जोड़ता है, तब 200 रुपए और मिलते है.

लेकिन पहली दो जोइनिंग डायरेक्ट लेफ्ट और राईट downline में करनी होती है. जिससे की 200-200 रुपए और 1000 रुपए पेअर इनकम मिलती है. उसके बाद अब downline में बनने वाले हर पेअर पर 1000 रुपए मिलते है.

\

उदहारण: राम अपने लेफ्ट डाउनलाइन में श्याम को जोड़ता है और राईट में सूरज को. तो उसे

  • श्याम की जोइनिंग के 200 रुपए,
  • सूरज की जोइनिंग पर 200 रुपए
  • और 1000 रुपए पेअर इनकम होगी.

अब अगर श्याम अपने निचे लेफ्ट और राईट में एक पेअर बनाता है, तो राम को भी 1000 रुपए मिलेंगे.

कुल मिलाकार सिक्योर लाइफ का इनकम प्लान आसान है, जिन लोगो को नेटवर्क मार्केटिंग में लोगो को कैसे बुलाते है? ये पता हो, वे जल्दी इनकम कर सकते है.

सिक्योर लाइफ से करोड़ो की इनकम ??

अगर आप कभी सेफ शोप जैसी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी के सेमीनार में गये होंगे, तो आपको भी करोड़ो में रुपए कमाने के सपने दिखाए होंगे. पर वास्तव में कितना काम करने पर कितना पैसा मिलेगा? ये हिसाब आपके लीडर ने भी नहीं किया होगा.

सिक्योर लाइफ में 10 लाख लोग से भी अधिक लोग मेरे अनुसार जुड़े होंगे. फिर भी अगर आप 5 लाख लोग मानकर चले, तो आप कुछ 19 लेवल पर आते है.सिक्योर लाइफ को 19 साल से ज्यादा हो गये है. तो बेशक इससे ज्यादा लेवल होंगे और लेवल में बहुत उच-नीच होती है.

आप 19 लेवल पर जुड़े है, अब आपको 1 लाख 28 हज़ार रुपए की इनकम करनी है. तो इसलिए आपको अपने निचे 7 लेवल बनाने होंगे. जिसमे कुल आपके निचे 254 लोग जुड़े होंगे.

अब इसी अनुपात में कंपनी को आगे बढ़ाये, तो सिक्योर लाइफ का लेवल औसतन 26 पर आ जायेगा. 19 लेवल पर आप और आपके निचे के 7 लेवल मिलकर 26 लेवल.

26 लेवल तक इस बाईनरी प्लान में 6.7 करोड़ लोग होने चाहिए. जैसा की आपको पहले बताया, कि सिक्योर लाइफ में 10 लाख से अधिक लोग जुड़े होंगे और इसमें कुल 19 साल लगे है, तो सोचिये अगले 6 करोड़ लोग आने में कितना समय लगेगा. क्युकी 26 लेवल करने के लिए कंपनी के पास 6 करोड़ लोग होने चाहिए.

आपके Downline की तुलना कंपनी से इसलिए कर रहा हूँ, क्युकी कंपनी की ग्रोथ दर पर ही आपकी सफलता है. और आज के समय में कुल 1 लाख 28 हज़ार रुपए कमाकर कोई सफल नहीं होगा. जबकि सपने तो आपको करोड़ो कमाने के दिखाए गये थे.

ऐसा कुछ ही Naswiz Retails के बिज़नेस प्लान के साथ भी है.

सिक्योर लाइफ से जुड़े या नहीं?

अब सवाल आता है, कि SAFE AND SECURE ONLINE MARKETING PRIVATE LIMITED से जुड़े या नहीं. क्या सेफ शॉप से जुड़ने के फायदे है और क्या नुकसान.

यहाँ पर भी आपको दो पहलु सामने आते है. जिसमे सिक्योर लाइफ के कुछ फायदे भी है और नुकसान भी.

सिक्योर लाइफ के फायदे

  • यहाँ आपको सिर्फ एक बार प्रोडक्ट ही खरीदने है. बार-बार पैकेज नहीं लेने पडते है.
  • बाईनेरी प्लान समझने में और वास्तविकता निकालने में आसान है.
  • सिक्योर लाइफ में BV (Business Volume) , PV (Point Volume) का इस्तमाल नही होता है, जिससे डायरेक्ट सेलर भ्रमित नही होते.

सिक्योर लाइफ के नुक्सान

सिक्योर लाइफ में आपको प्रोडक्ट की दौगुनी कीमत चुकानी पड़ती है. इसलिए अगर आप नेटवर्क मार्केटिंग कर नहीं पाते है, तो आपको अपना आधा पैसा गवाना पड़ता है.

सिक्योर लाइफ से बेहतर बहुत से विकल्प मौजूद है. जिसमे देश-विदेश की बहुत सारी प्रोडक्ट आधारित कंपनी है. जैसे vestige, modicare, herbalife, forever living, Mi Lifestyle आदि.

अंत में औसतन MLM सफलता दर मात्र 00.03% है, जो की IIT में एडमिशन पाने से भी कम है. इसलिए अगर आप पढाई या किसी और काम में रूचि रखते है, तो उसे प्राथमिकता दे.

छोटे स्तर पर घरेलु बिजनेस की सफलता दर भी 30% से अधिक है. इसलिए सिर्फ MLM ही पैसे कमाने का आखरी तरीका नहीं है.

निष्कर्ष

मुझें उम्मीद है, कि आपके लिए सिक्योर लाइफ पर ये लेख मददगार रहा होगा। बेशक कई लोग इस लेख को नकारात्मक समझ रहे होंगे, लेकिन जो तथ्य है। उनके अनुसार ही ये लेख है।

सिक्योर लाइफ से जुड़े हुए अधिकतर लोग असहमत होंगे, परन्तु उन्हें खुद एक बार सोचना होगा। 

अगर आप नेटवर्क मार्केटिंग में नए है या अपना MLM करिअर फिर से शुरू करना चाहते है। तो आपको एक प्रोडक्ट आधारित MLM कंपनी से ही जुड़ना चाहिए। 

प्रोडक्ट आधारित MLM कंपनी में जो पैसे आप देते है, उसके बदले आपको वास्तव में उसी कीमत के प्रोडक्ट मिलते है। और आप उन प्रोडक्ट को बिना बिना MLM का समझे हुए भी ख़रीद सकते है।

सिक्योर लाइफ इस सूची में नही है, यहाँ आपको हर पैकेज पर बहुत ज्यादा पैसे देने होते है। 

अगर आपको कोई भी सवाल या सुझाव सिक्योर लाइफ यानी कि सेफ शॉप के बारे में है, तो कमेंट में जरूर बताएं।

JOIN BEST MLM COMPANY

( असीमित कमाई का अवसर )

Ads

8 thoughts on “Secure Life का सच – बिज़नेस या घोटाला | Safe Shop की सच्चाई”

  1. Main kam time main zayada team build kaise karu,,,and mere area main people join hone ke liye ignore karte hain,,, please sollutiso dijit

    1. Hemant kumawat

      MLM कंपनियों के प्रोडक्ट ही इतने महंगे होते है, कि कोई इसमें अपना पैसा और समय बर्बाद नही करना चाहता. ऊपर से MLM में सिर्फ 0.04 प्रतिशत सफलता दर है. इसलिए अगर आप एक पब्लिक स्पीकर है और हजारो लोगो को इक्कठा कर सेमिनार करवाते है, तब ही सफल होगे, नहीं तो 1-2 साल बाद आपको भी मजबूरन छोड़ना पडेगा.

  2. सेफ शॉप में डीलरशिप बहुत अच्छी है यदि कोई व्यक्ति एक्टिव अपलाइन को फॉलो करते हुए कार्य करते हैं तो इसमें हंड्रेड परसेंट सफलता मिलने की संभावनाएं हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *