Direct Selling Guideline क्या है? सजा व नियम

MLM / नेटवर्क मार्केटिंग को लेकर बहुत से सवाल उठाए जाते है। आज के समय MLM को इतना बदनाम किया गया है,कि लोग MLM को फ्रॉड और Scam मानते है। वही कई लोग MLM को गैरकानूनी करार करते है।

Direct Selling Guidelines in India

भारत मे MLM को लेकर बहुत से मामले सामने आए है,जहाँ लोगो से MLM के नाम पर लाखों रुपए की ठगी की जाती है।जिससे समाज के लोग MLM से दूर भागते है। इसलिए भारत सरकार ने कुछ कदम MLM / नेटवर्क मार्केटिंग / डायरेक्ट सेलिंग पर उठाये है।जिसमे भारत सरकार ने Direct Selling Guidelines जारी की है।इसे आप MLM Guidelines, Network Marketing Guidelines या Direct Selling Guidelines भी कह सकते है, क्युकी तीनो एक ही है.

Direct Selling Guidelines क्या है?

Direct Selling Guideline In HIndi

Direct Selling Guidelines भारत सरकार द्वारा लागू किये दिशानिर्देश है। जिसमे कुछ नियम बनाये गए,अगर MLM कंपनी उन सभी नियमो यानी दिशानिर्देश का पालन करती है। तभी वह MLM कंपनी भारत मे लीगल करार दी जाएगी। 

अन्यथा, वह MLM कंपनी पोंजी स्कीम या पिरामिड स्कीम में गिनी जाएगी। पोंजी और पिरामिड स्कीम MLM के नाम पर चलने वाली फ्रॉड कंपनी होती है। जो लोगो से निवेश करवाकर धोखा करती है। 

Disclaimer:

इस लेख हम केंद्रीय सरकार द्वारा जारी की गई Direct Selling Guidelines को हिंदी में सरल भाषा में बतायंगे। जिससे आपको आसानी से दिशानिर्देश समझ में आ जाएंगे। यह Guidelines  9,सिंतबर 2016 को केंद्रीय उपभोक्ता मंत्रालय (MCA) ने जारी की है।

Direct Selling Guidelines 

डायरेक्ट सेलर के लिए Guidelines

अगर आप एक डायरेक्ट सेलर है,तो आपको डायरेक्ट सेलिंग करते समय इन नियमो के पालन करना होगा,अन्यथा आप भारत सरकार के दिशानिर्देश के खिलाफ जाकर एक गुन्हा कर रहे है। यहा पर हम Guideline में से प्रमुख बिंदु बता रहे है.

1. आप बिना अपना परिचय और कंपनी के बारे में पहलेे बिना बताये, डायरेक्ट सेलिंग और प्रोडक्ट का प्रदर्शन शुरू नही कर सकते। आपको सबसे पहले अपना काम बताना होगा और अपना पहचान पत्र साथ रखना होगा।

2. ‎उपभोक्ता की अनुमति या नियुक्ति के बिना उनके परिसर में नही जा सकते। आपको उपभोक्ता से मिलने और डायरेक्ट  सेलिंग के बारे में पहले सूचित करना होगा।

3. आप उपभोक्ता को गलत या अधूरी जानकारी देकर प्रोडक्ट बेच या नेटवर्क में नहीं ला सकते है।

4. डायरेक्ट सेलर उपभोक्ता से ऐसा वादा नही कर सकता,जो शत-प्रतिशत पूरा ना हो। यानी की उपभोक्ता को आकर्षित करने के लिए कहना,कि इतने पैसे कमा सकते है। ऐसा बड़ा-चढ़ाकर बखान करना गलत है।

5. ‎जब डायरेक्ट सेलर उपभोक्ता को बिक्री कर रहा हो, तो उपभोक्ता को उसे निम्न जानकारी देनी होगी। खुदका नाम, पता, कंपनी में रजिस्ट्रेशन नंबर, फ़ोन नंबर, प्रोडक्ट/सर्विस का बिल उसी तारीख को कुल राशि सहित,प्रोडक्ट को रद्द और वापस करके रिफंड पाने की जानकारी आदि।

6. ‎डायरेक्ट सेलर कंपनी को जब चाहे, तब छोड़ सकता है।वही कंपनी की रिफंड नीति अनुसार, डायरेक्ट सेलर प्रोडक्ट/सर्विस वापस देकर पैसा रिफंड पा सकता है।

7. ‎डायरेक्ट सेलर के पास ख़ुद की लिखित पुस्तिका होनी चाहिए,जिसमे सभी प्रोडक्ट/सर्विस की ख़रीद,बिक्री की जानकारी अपने उपभोक्ता के नाम सहित होनी चाहिए।

8. ‎डायरेक्ट सेलर ऐसी कोई सामग्री जैसे सूची-पत्र (Prospectus) या जानकारी आगे नहीं दे सकता,जो कंपनी ने जारी नही किया हो।

\

9. ‎डायरेक्ट सेलर अपने उपभोक्ता या नए डायरेक्ट सेलर को ज्यादा मात्रा में प्रोडक्ट ख़रीदने को मजबूर नही कर सकता है।

10. ‎डायरेक्ट सेलर कोई भी जानकरी नए लोगो को बुलाते समय मे नहीं छुपा सकता है।वही प्रोडक्ट/सर्विस वापसी की शर्तें, वारण्टी, गारण्टी बताना बेहद जरूरी है।

डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन PDF डाउनलोड़

आप उप्पर दिये बटन से Direct Selling Guideline Hindi PDF Download कर सकते है, जिसमे पूरी Guideline हिंदी में बताई है.

डायरेक्ट सेलिंग कंपनी के लिए Guidelines

1. सबसे पहले तो कंपनी को भारत सरकार के अंतर्गत रजिस्टर होना होगा और अपने सभी दस्तावेज बनाने होंगे।

2. ‎कंपनी को डायरेक्ट सेलिंग बिज़नेस चलाने के लिए अपने राज्य के उपभोक्ता विभाग को लिखित में बताना होगा और समय-समय पर बिज़नेस की जानकारी देनी होगी।

3. ‎कंपनी के पास 3 सदस्यों की एक समिति होनी चाहिए,जो डायरेक्ट सेलर और उपभोक्ता की समस्याओं का निवारण करे। 

4. ‎कंपनी के पास खुद की वेबसाइट होनी चाहिए,जिसमे प्रोडक्ट/सर्विस, कंपनी के सम्पर्क सूत्र, कंपनी की नीतिया, इनकम प्लान, प्रोडक्ट क्वालिटी सर्टिफिकेट, शिकायत दर्ज करने की सेवा हो। 

5. ‎कंपनी के पास अपने राज्य में क्षेत्राधिकार कार्यलय होना जरूरी हो। जो कंपनी या उसके प्रबंधक के नाम हो।

6. ‎कंपनी के प्रबंधक में किसी भी सदस्य पर पिछले 5 साल तक कोई भी आपराधिक मामला किसी कोर्ट में ना हो।

7.  कंपनी ध्यान रखेगी,कि उसके डायरेक्ट सेलर और डिस्ट्रीब्यूटर किसी तरह से प्रोडक्ट/सर्विस की बिक्री कर रहे है। कही वे MLM Guideline के विरुद्ध तो नही जा रहे.

8. ‎कंपनी खुद किसी भी प्रकार से आने वाली समस्या का समाधान करेगी।कंपनी को आने वाली शिकायत पर 45 दिन के अंतर्गत कार्यवाही करनी होगी।

9. ‎कोई डायरेक्ट सेलर 2 साल तक कोई बिक्री नही करता है,तो उसे नोटिस देकर डायरेक्ट सेलिंग बिज़नेस के समझौते से अलग करना होगा।

10. ‎कंपनी को अपने डायरेक्ट सेलर द्वारा ख़रीदी और बिक्री का डेटा समय-समय पर देना होगा। अगर कंपनी का कोई डायरेक्ट सेलर टैक्स (VAT) के अंतर्गत आता है,तो उसे कंपनी को टैक्स भरने के लिए नोटिस देना होगा।

डायरेक्ट सेलिंग कंपनी और पिरामिड स्कीम में फर्क

Direct Selling Guidelines से आप MLM कंपनी और पिरामिड स्कीम में फर्क समझ सकते है। MLM कंपनिया प्रोडक्ट/सर्विस आधारित होती है,जिसमें प्रोडक्ट को बेचने पर ज़ोर दिया जाता है।

लेकिन पिरामिड स्कीम में सिर्फ नए लोगो को लाने के लिये कहाँ जाता है। MLM कंपनिया जुड़ने वाले लोगो से किसी भी प्रकार से पैसा नही लेती है,कंपनी अपने डायरेक्ट सेलर को प्रोडक्ट/सर्विस बेचती है और वह प्रोडक्ट/सर्विस डायरेक्ट सेलर उपभोक्ता को बेचता है। 

पिरामिड स्कीम जुड़ने के समय ही भारी रकम मांगती है।कही कंपनिया प्रोडक्ट/सर्विस के नाम पर पैसा मांगती है और वास्तव में इतनी किमत नही होती है।

अगर कंपनी आपको प्रोडक्ट खरीदने के लिए मजबूर करती है (यानी की आपको इतने का प्रोडक्ट जुड़ते ही ख़रीदना होगा),तो भी कंपनी Guideline के खिलाफ़ है। वही सही MLM कंपनिया प्रोडक्ट/सर्विस वापस करने की भी जानकारी देती है।

Guideline के खिलाफ़ जाने पर?

अगर आप एक डायरेक्ट सेलर है और Guidelines के खिलाफ जाकर डायरेक्ट सेलिंग करते है,तो आप एक अपराध कर रहे है. डायरेक्ट सेलर पर आने वाली शिकायतों का समाधान पहले कंपनी को करना होगा, और मामला दर्ज होने पर कोर्ट से सजा भी मिल सकती है. Direct Selling Guidelines के खिलाफ जाने पर Consumer Protection Act 1986 के तहत कार्यवाही होती है.

अगर डायरेक्ट सेलिंग कंपनी MLM Guideline के खिलाफ़ काम करती है, तो उसके प्रबंधक, संस्थापक और अध्यक्ष पर मामला दर्ज होगा. वही पिरामिड स्कीम में शामिल और उसका प्रमोशन करने वालो पर भी मामला चल सकता है. इसलिए डायरेक्ट सेलिंग शुरू करने से पहले Guideline जरुर पढ़े.

निष्कर्ष:

हमें उम्मीद है,कि आपको Direct Selling Guidelines समझ आ गयी होगी। आप इन Direct Selling Guidelines Download भी कर सकते है।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *