MLM सही या गलत ? नेटवर्क मार्केटिंग की सच्चाई

ऐसे ही सवालो के साथ भारतीय MLM इंडस्ट्री घिरी हुई है और हो भी क्यों नही। क्योंकि MLM के नाम पर इतने फ्रॉड देश में पहले ही हुए है।

जबकि सरकार ने पहले ही डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन निकल दी है और लीगल डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों की लिस्ट भी जारी की है.

MLM में सिर्फ 0.4% लोग सफल होते है। इस बात को भी हम नकार नही सकते है। जो MLM लीडर इसे दिन-रात प्रमोट करते है, उनका काम ही MLM को प्रमोट करना है।

MLM सही या ग़लत

इस लेख में हम विस्तार से इस सवाल का जवाब जानेंगे, कि “MLM सही या गलत?” । 

तो चलिए शुरू से इसे जानते है।

MLM क्या है?

तो सबसे पहले हम डायरेक्ट सेलींग जानते है। डायरेक्ट सेलींग में Wholesaler, Distributor, Advertiser और Retailer का खर्चा हटाकर, डायरेक्ट सेलर के द्वारा प्रोडक्ट बिक्री कराई जाती है।

डायरेक्ट सेलींग दो प्रकार की होती है, 

  • पहली सिंगल-लेवल मार्केटिंग और 
  • दूसरी MLM (मल्टी लेवल मार्केटिंग)। 

सिंगल लेवल मार्केटिंग में व्यक्ति सीधा कंपनी से जुड़ा हुआ होता है, लेकिन MLM में लोगो का नेटवर्क होता है। इसलिए MLM के काम को नेटवर्किंग भी कहते है।

इसके अलावा इसे नेटवर्क मार्केटिंग, रेफ़रल मार्केटिंग (Referral Marketing), चैन सिस्टम जैसे कई नाम से भी जाना जाता है।

सरल भाषा में बोले, तो MLM एक मार्केटिंग करने का तरीका है, जिसमे उपभोक्ता ही विक्रेता बनकर कंपनी के प्रोडक्ट (उत्पाद) या सर्विस (सेवा) को अन्य उपभोक्ता को बेचता है।

अब MLM के प्लान बहुत आ गए है, जैसे बाइनरी प्लान, Generation प्लान, पार्टी प्लान इत्यादि।

वही पिरामिड स्कीम और पोंजी स्कीम फ्रॉड होते है। अब कही कंपनिया MLM के नाम पर पोंजी और पिरामिड स्कीम चलाती है।

MLM कब सही है? (फायदे)

अब हम बात करते है,कि MLM कब सही है? और MLM के फायदे कौनसे है?

लीडरशिप और अन्य स्किल्स 

हमारे देश में कितने लोग ऐसे है, जो MLM में फैल हुए है। लेकिन फिर आगे भविष्य में बहुत सफल हुए है। कई सफल लीडर, MLM छोड़कर भी अन्य बिज़नेस करते है।

आप संदीप महेष्वरी का उदाहरण ले सकते है। 

कही लोगो का कहना है,कि MLM में चाहे सफल नही हुए। लेकिन उन्हें MLM से बहुत कुछ सीखने को मिला है। 

लीडरशिप, कम्युनिकेशन, मार्केटिंग, प्रेजेंटेशन जैसी बहुत सी स्किल्स, आप MLM में सिख सकते है। 

ये स्किल्स आपको आगे बिज़नेस करने में और सफल होने में बहुत काम आती है। इसलिए नयी स्किल्स सिखने के लिए, MLM कर सकते है.

पैसा 

इसमे कोई दो राय नही है, कि आप MLM से बहुत सारा पैसा कमा सकते है। पर ऐसा सिर्फ 0.4% लोगो के साथ होता है।

हमने इस पोस्ट में बताया है, कि कौन लोग MLM में सफल होते है? इसे पढ़ने के बाद आपको पता चल ही जाएगा,कि MLM किनके लिये है।

जो लोग MLM में सफल होते है, उनकी इनकम जबरदस्त होती है. इसलिए अगर आपके पास जरुरी स्किल्स है और पैसा कमाना है, तो MLM करना फायदेमंद है.

Low Risk

अगर आपके पास स्किल्स है और खुदके दम पर बिज़नेस खड़ा करना चाहते है, पर रिस्क नहीं ले सकते है. तो MLM काफी बढ़िया विकल्प है.

यहाँ आपको अपना बहुत सारा पैसा नही देना है और मैनेजमेंट का बोझ भी नही है। जरुरत सिर्फ अपनी टीम बनाने की है और उस टीम को खुदकी तरह ट्रेन करना होगा.

MLM कब गलत है? (नुक्सान)

अब हम कुछ कारण देखंगे, कि MLM कब गलत है? और MLM से क्यों दर रहना चाहिए?.

Fraud MLM Companies

फ्रॉड MLM कंपनियो की देश में कोई कमी नही है। हर दूसरी MLM कंपनी पिरामिड स्कीम चलाती है या फिर दो-तीन सालो में बंद हो जाती है।

ऐसे में प्रोडक्ट आधारित कंपनिया ढूंढना मुश्किल है। आप नीचे दी पोस्ट पढ़ सकते है, जिससे आपको MLM में अच्छी कंपनी ढूंढने में मदद होगी।

अगर आप गलती से फ्रॉड MLM कंपनी से जुड़ जाते है, जो आगे जाकर बंद हो जाती है, तो आपकी सालो की मेहनत एक चुटकी में बर्बाद हो जाएगी.

MLM से जल्दी कमाओ

अगर आपको किसी ने बोला है या आप सोचते है, कि MLM में सफल होना आसान काम है और जल्दी पैसा कमा सकते है। तो यह बिल्कुल गलत है।

MLM में सफल होने के लिए कम्युनिकेशन, प्रेजेंटेशन, मैनेजमेंट,मार्केटिंग जैसी बहुत स्किल्स को सीखना होगा। 

वही अधिकतर MLM लीडर्स का कहना है,कि सफल होने के लिए न्यूनतम 2 से 3 वर्ष लगतार मेहनत करनी होती है। इसलिए आप MLM को पैसा कमाने का सबसे सरल और तेज तरीका नहीं मान सकते.

MLM Part-Time

कई लोग MLM को पार्ट-टाइम करने को कहते है। लेकिन मै इसे बिल्कुल भी सलाह नही करता।

अक्सर हम पार्ट-टाइम काम इसलिए करते है, ताकी खाली समय से कुछ पैसा कमा सके। 

लेकिन MLM में सफल होने में ही 2 से 3 साल लग जाते है और सफल होना भी निश्चित नही है। वही आपको MLM में बहुत ज्यादा मेहनत करनी होती है। 

अगर आप पढ़ाई कर रहे है, तो MLM से पढ़ाई पर भारी प्रभाव पड़ेगा और हो सकता है,कि आप पढ़ाई और MLM दोनों जगह असफल हो जाओ।

इसलिए MLM को पार्ट-टाइम करना एक समस्या बन सकता है। 

MLM करे या नहीं

तो अब सवाल मन में रहता है,कि MLM करे या नही। तो पूरी तरह से आप पर और आपके हालात पर निर्भर करता है।

अगर आप लीडरशिप जैसी स्किल सीखना चाहते है और आपको MLM के अलावा कोई और बेहतर विकल्प नही लगता है। इसके साथ आप MLM में 2 से 3 साल लागतार मेहनत करने को तैयार है, तो MLM कर सकते है।

अगर आपका कुछ और पेशन है या फिर आप ज़िंदगी में कुछ और करना चाहते है, तो अपने दोस्त या रिश्तेदार के कहने पर MLM से ना जुड़ें।

क्योंकि जितनी मेहनत आप MLM में करने वाले है। उतनी मेहनत कर आप अपनी पसंदीदा काम करके भी सफलता पा सकते है।

वही अगर आप MLM कर रहे है, तो जबतक आप पूरी लगन और रूचि के साथ मेहनत नहीं करते, तबतक आपका सफल होना नामुमकिन है.

निष्कर्ष

हमे उम्मीद है, कि “MLM सही या गलत ?” इस सवाल से जुडी हमारी यह पोस्ट पसंद आयी होगी. वही आपको नेटवर्क मार्केटिंग व डायरेक्ट सेलिंग की सच्चाई पता चल गयी होगी.

अगर आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो निचे कमेंट में जरुर दे.



3 thoughts on “MLM सही या गलत ? नेटवर्क मार्केटिंग की सच्चाई”

  1. Sir ham to jud gaye hai lekin hamse koi nahi jud raha to hame kya network marketing achha rahega ya sahi agar sahi rahega to kaise

  2. Hii sir agar hum kisi partner ko bulae or bo join n hua to kya hoga or sir yah mlm componey m kam krna sahi h y galat isme kitne logo ko safalata milti h sir yah kam krna sahi h y galat

Leave a Comment

Your email address will not be published.