MLM व नेटवर्क मार्केटिंग के 7 नुक्सान |MLM की सच्चाई

जब कोई व्यक्ति MLM और Networking की किसी स्किम या कंपनी से जुड़ने जाता है,तो उसे हर कोई MLM और नेटवर्क मार्केटिंग के फायदे बताता है। MLM से बड़े ख्वाब दिखाए जाते है और क्यों MLM से  जुड़े उसके हज़ारो कारण बताए जाते है। इन फायदे और MLM के लाभ सुनकर हर कोई MLM की तरफ निकल पड़ता है,ऐसा नही है,कि MLM से जुड़ना गलत है। परन्तु MLM के नुक्सान का क्या? क्या MLM में सालो काम करने के बाद होगा? हर बिज़नेस और काम के फायदे और नुकसान होते है,ऐसा ही MLM के साथ है।परन्तु,MLM के नुकसान को कोई सामने नहीं ला रहा है,इसके अलावा इसके कई राज छुपाए जाते है। इसलिए आपको इस पोस्ट के हम MLM के 6 नुकसान और MLM,नेटवर्क मार्केटिंग  के कुछ छुपे राज़ बताएँगे। अगर आपको MLM और नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में कुछ नही पता है,तो हमारी पुरानी पोस्ट पढ़ सकते है. इस लेख से MLM के नुकसान क्या है? MLM से क्यों ना जुड़े? नेटवर्क मार्केटिंग क्यों ना करे? डायरेक्ट सेलिंग के नुकसान? MLM का भविष्य क्या है? सवालों का हल देंगे.


MLM के नुक्सानMLM or networking ke nuksaan

 

हम MLM के कुछ ऐसे बड़े नुकसान बता रहे है,जिनके बारे में बहुत कम लोगो को पता होगा. ऐसा नहीं है,कि हम MLM के विरुद्ध है,परन्तु हमे दोनों पेहलू को समझना जरुरी है.

स्किल्स का होना

अगर कोई MLM और नेटवर्किंग से जुड़ना चाहता है,तो उसके पास जरूरी स्किल्स का होना जरूरी है। स्किल्स में यहाँ हम,नए लोगो से बातचीत करना,लोगो को अपनी बात समझना,अपनी पर्सनैलिटी से अपनी पोजीशन को दर्शाना जैसी स्किल्स की जरूरत होती है। यानी अगर आपके पास कम्युनिकेशन और मार्केटिंग स्किल नहीं है,तो MLM में जाना आपके लिए मुश्किल हो सकता है।क्योंकि यहाँ सबसे बड़ा काम यही है,की आप कैसे अपनी बातों से लोगो का दिल जीतते है।

कम्युनिकेशन स्किल्स लोगो मे अपने जीवन भर के अनुभव से आती है।तो ज्याज है,इस स्किल को बनाने में समय लगता है। इसलिए MLM जॉइन करने से पहले अपनी स्किल्स पहचाने और उसे निरन्तर बढ़ाने की कोशिश करें।

MLM और नेटवर्किंग का सीमित होना

अगर आप सोच रहे है,कि MLM में आप मेहनत करके कुछ भी कर सकते है,तो हम जो बता रहे है,उस बात को सबसे पहले ध्यान रखे। जैसे ही आप किसी नेटवकिंग और MLM से जुड़ जाते है,तो आप एक चैन का हिस्सा बन गए है। जैसे-जैसे चैन आपके नीचे बढ़ेगी,आपकी इनकम बढ़ेगी।परन्तु,एक समय आएगा,की आपके नीचे की चैन बनना बंध हो जाएगी। यानी,कि आप एक फिक्स पोजीशन पर आ जाओगे। जहाँ से आप उपर की तरफ चैन में जा नहीं सकते  और आपके नीचे चैन बढ़ेगी नहीं। क्योंकी हर जगह ऑडिएंस फिक्स है,आप ऐसा नहीं है की जबरदस्ती किसी को MLM में डालेंगे।  इसलिए MLM की सीमा को आपको समझना पड़ेगा।

परन्तु,इस सीमा को आप बड़ा सकते है,इसके लिए आप ज्यादा पुराने MLM प्लान  से ना जुड़े,जिसके बारे में पहले ही सबको पता हो,परन्तु इससे यह मतलब नहीं, कि आप किसी नई कंपनी से जुड़ जाए। ऐसे में आपका ओर नुकसान होगा।

इसके अलावा आप एक से ज्यादा MLM से जुड़कर अपना MLM करियर को ओर बेहतर बना सकते है।

\

फ्रोड और Scam  कंपनीयो का होना

MLM की में कोई अनुभवी व्यक्ति किसी नई कंपनी को जॉइन करने की अगर वो सोचता है,तो वह व्यक्ति MLM की उस कंपनी की पूरी जानकारी और हिस्ट्री निकलेगा। यानि, नेटवर्किंग के अनुभवी व्यक्ति हमेशा कंपनी को ही टारगेट करते है,बाद में वे प्लान और प्रोफिट देखते है। इसके पीछे भी एक बड़ा राज है।

MLM में 50% ऐसी कंपनिया है,जिन्हें जॉइन मेंबर के इनकम और कंपनी के साथ अनुभव की कोई परवाह नहीं होती। वे सिर्फ नए मेंबर जोड़ने और प्रोडक्ट निकालने की बात करते है। यानी की कंपनिया सिर्फ अपना प्रॉफिट और लीडर्स का प्रॉफिट देखती है।

रिपोर्ट में शाबित हुआ है,कि 90% MLM कंपनिया 5 साल से ज्यादा नहीं टिक पाती है,चाहे वह एक साल में कितने भी बड़े नेटवर्क बना रही हो। यानी,कि कंपनीयो के कारण बहुत से लोगो को अपने पैसे,मेहनत और समय गवाना पड़ता है। इसलिए कंपनी को ध्यान से परखें और चुने,क्योंकि कंपनी पर ही आपका सब कुछ निर्भर होता  है। हाल ही में फ्यूचर मेकर ने 1200 करोड़ रुपए का घोटाला किया,जो सबसे तेजी से भारत में फेलने वाली MLM कंपनी थी. इससे अब लाखो का पैसा बर्बाद हो गया.

आत्म-सम्मान का खोना

लोग अपने MLM करियर के पीछे अपना आत्म-सम्मान खो लेते है। क्योंकि जैसे ही वे MLM में जुड़ते है,वे जोर-शोर से अपने प्लान  को बढ़ावा देना शुरू कर देते है,परन्तु 95% लोगो को शुरुवात में ही धक्के पड़ते है,यानी कोई उनके नेटवर्क में नहीं जुड़ता और उनके प्रोडक्ट नहीं लेता। जिससे वह इंसान अपना आत्म-सम्मान खो देता है। जिससे उसके करियर और आम जिंदगी पर भी असर पड़ता है।

ऐसे में ज्यादातर लोग इस हार को सह लेते है,परन्तु कुछ नहीं कर पाते,जिससे वे एक साधरण जिंदगी भी नहीं जी पाते। इसलिए MLM शुरवात मेे आत्म-सम्मान और आत्म-विश्वाश को भी ठेश पहुचती है।

MLM से इनकम नहीं मिलना

MLM में शुरआत के आप 6 महीने भी लगातार मेहनत करके नेटवर्क बनाते हो,फिर भी कई कंपनियों के प्लान ऐसे डिज़ाइन होते है,की बहुत कम इनकम और मिलती है।क्योंकि MLM का यही मुख्य कायदा है,जैसे हमने पहले बताया हुआ है,कि MLM सिंपल नहीं कंपाउंड इंटरेस्ट पर चलता है। यानी,आज की हुई मेहनत का फल अपको कुछ सालों बाद मिलता है।

अगर MLM से कोई फिक्स महीने की सैलरी की तरह इनकम उम्मीद करता है,तो उनके लिए MLM और नेटवर्किंग बिलकुल नही है.

MLM इंडस्ट्री में एकता 

MLM और नेटवर्किंग में हर कोई अपने प्लान और प्रोडक्ट को प्रमोट करता जाता है। ऐसे में लोगो की यह स्थिति होती है,कि वे अपने प्लान और कंपनी को प्रमोट करने के लिए दूसरी कंपनी की बदनामी करते है। जैसे की वे दूसरी कंपनी को Scam और फ़्रॉड भी बोल देते है,जिसके चलते वे गलत नीति की तरफ जाते है। एक-दो व्यक्ति नहीं,बल्कि अक्सर ज्यदातर लोग ऐसा अब करते है। जिससे की सभी MLM कंपनी की कई ना कई बदनामी हो ही जाती है। भले कोई कंपनी और प्लान कितना भी फायदेमंद क्यों ना हो। जिससे MLM और नेटवर्किंग इंडस्ट्री पीछे की ओर MLM करने वाले लोगो के कारण  ही जा रही है।

पोंज़ी स्कीम और पिरामिड स्कीम

MLM और नेटवर्किंग के नाम पर पोंज़ी स्कीम और पिरामिड स्कीम की कोई कमी नही है. ऐसी कंपनिया प्रोडक्ट सेल्लिंग पर नही बल्कि money-circulation का काम करती है,जो लीगल नही है.भारत में ऐसी कंपनियों की कोई कमी नही है और भारतीय इन कंपनी के दिखावे में आकर अपना निवेश किया पैसा और समय गवा देते है.


आपको MLM के 7 बड़े नुक्सान के बारे में आपको पता चल गया होगा। अगर आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो,तो हमे कमेंट के जरूर बताएं।

Rate this post

कमेंट करे